केंद्रीय मंत्री हर्षवर्धन ने फिर साफ़ किया – केवल प्राथमिकता वालों को मुफ़्त में मिलेगी वैक्सीन .. यानि सभी के लिए मुफ़्त नही होगी .. एक करोड़ हेल्थ वर्कर और 2 करोड़ फ्रंटलाइन वर्कर्स को मिलेंगी .. बाक़ियों के लिए जुलाई में फ़ैसला लेंगे.

नई दिल्ली. भारत में कोरोना वैक्सीन (Covid-19 Vaccine) को लेकर तैयारियां तेज कर दी गई हैं. कोरोना वैक्सीन की तैयारियों को जायजा लेने के लिए आज देशभर में वैक्सीन का ड्राई रन जा रहा है. इस खास मौके पर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन बड़ा ऐलान करते हुए कहा है कि कोरोना वैक्सीन मुफ्त लगाई जाएगी।

बता दें कि केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय सभी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के कुल 116 जिलों में 259 जगहों पर आज COVID-19 वैक्सीन का ड्राई रन कर रहा है.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन ने खुद दिल्ली के ​जीटीबी अस्पताल जाकर वैक्सीन के डाई रन का जायजा लिया.

जीटीबी अस्पताल से बाहर आते हुए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन ने कहा, मैं लोगों से अपील करता हूं कि वे अफवाहों पर ध्यान न दें. वैक्सीन की सुरक्षा सुनिश्चित करना हमारी प्राथमिकता है. पोलियो के वैक्सीन दिए जाने के दौरान भी विभिन्न प्रकार की अफवाहें फैलाई गईं थीं, लेकिन लोगों ने टीका लगवाया और आज भारत अब पोलियो मुक्त हो गया है.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन ने कहा, पिछली बार हमने 4 राज्यों में ड्राई रन चलाया था. पिछली बार हुई ड्राई रन के बाद हमने अपने दिशा-निर्देशों में थोड़ा सुधार किया है. आज सभी राज्य और केंद्रशासित प्रदेश ड्राई रन कर रहे हैं. सबकुछ वैसे ही किया जा रहा है जैसे वैक्सीनेशन के दौरान किया जाएगा. बस एक असली टीको को छोड़कर. सभी चीजों की जांच की जा रही है, लोग कमरे में कैसे इंतजार करेंगे. इसके साथ ही कोविड ऐप में डेटा कैसे दर्ज किया जाएगा. हमारी टीम देख रही है कि 30 मिनट के पोस्ट टीकाकरण के लिए कैसे मनाया जाएगा, क्या चिकित्सा आपात स्थिति में तैयारियां होती हैं.

डॉक्टर हर्षवर्धन ने बताया कि सभी टीकाकरण अधिकारियों का एक विशिष्ट नियम है और इसे 1,2,3,4 के रूप में गिना गया है. हमने 2,000 से अधिक मास्टर ट्रेनरों को प्रशिक्षित किया है. इसके साथ ही जिला और ब्लॉक स्तर पर प्रशिक्षकों को भी प्रशिक्षित किया गया है. 150 पेज की एक गाइडलाइन है, जिसके बारे में उन्हें प्रशिक्षित किया गया है.

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *