YearEnder2020

वर्ष 2020 बीतने को है और 2021 में कदम रखने का समय आ गया है। हमेशा की तरह इस साल भी कई उतार-चढ़ाव के साथ इस साल को याद रखा जाएगा। लेकिन इस साल कोरोना की वजह से कई ऐसी घटनाएं हुईं जो कल्पना से भी परे थीं। इन बाधाओं के बीच कई ऐसे व्यक्तित्व सामने आए जिन्‍होंने इस वर्ष लोगों के दिलों में अपनी छाप छोड़ी। ऐसी शख्सियतों ने देश और दुनिया के कोने-कोने के लोगों का ध्यान अपनी ओर खींचा। 2020 के कुछ ऐसे खबरों में बने रहने वाले भारतीय और विदेशी शख्सियतों के बारे में जानेंगे, जो न सिर्फ राजनीति से बल्कि खेल, व्यवसाय, मनोरंजन के साथ ही कई अन्य क्षेत्रों के जरिए चर्चा में रहे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

साल की शुरुआत से लेकर अंत तक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश के प्रधान सेवक के रूप में खड़े रहे। वैश्विक संकट कोरोना महामारी में जहां देश की हिफाजत के लिए अपने अटल इरादों के साथ जनता के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़े रहे वहीं वैश्विक आपदा की वजह से अलग-अलग तरह के संकट से जूझ रहे कई दूसरे देशों को भी मदद भिजवाई। कोरोना काल में पीएम मोदी वीडियो कॉन्‍फ्रेंसिंग के जरिए जनता से रू-ब-रू होते रहे इस संकट से पार पाने के लिए हौसला देते रहे, जो अभी भी जारी है।

निर्मला सीतारमण

वर्ष 2020 में कोविड-19 महामारी की वजह से भारत की अर्थव्‍यवसथा काफी प्रभावित हुई। इस बीच उन्‍होंने एक के बाद एक आर्थ‍िक पैकजों की घोषणा की, जिसके फलस्‍वरूप अर्थव्‍यवस्‍था ने रफ्तार पकड़ी और बहुत जल्‍द भारत विकास दर निगेटिव से पॉजिटिव होने वाली है।

नीतीश कुमार

कोरोना काल में भारत में बिहार में विधानसभा सभा चुनाव हुआ, जिसमें लोगों ने कोरोना से बचाव के तमाम उपाय के बीच सकुशल चुनाव संपन्न कराया गया। इस चुनाव में एनडीए की जीत हुई तो वहीं एक बार फिर नीतीश कुमार बिहार के सीएम बने। इसके साथ ही नीतीश कुमार बिहार के 7वीं बार सीएम बने।

सोनू सूद

जब पूरे देश में कोरोना की वजह से लॉकडाउन हुआ, उस दौरान सभी अपने घरों में कैद होकर रह गए। लेकिन कई ऐसे लोग भी थे जो बिना किसी मदद के बेसहारा सड़कों पर अपने घर और परिवार के बीच लौटने के लिए बेचैन थे। ऐसे समय में लोगों की मदद के लिए फिल्म अभिनेता सोनू सूद सामने आए। उन्होंने बिना किसी सरकारी मदद और लाभ के देश के हर कोने तक अपनी मदद पहुंचाई। सिर्फ देश के अंदर ही नहीं बल्कि विदेश में रहने वाले भारतीयों की भी मदद की। यही वजह है कि आज सोनू सूद को दुनिया भर से नि:स्वार्थ प्रेम और सम्मान मिल रहा है।

महेंद्र सिंह धोनी

क्रिकेट जगत में उस वक्त सब हैरान रह गए जब सोशल मीडिया पर पोस्ट के जरिए भारतीय टीम के पूर्व कप्तान और क्रिकेटर महेंद्र सिंह धोनी ने क्रिकेट खेल के सभी प्रारूपों से संन्‍यास की घोषणा कर दी। धोनी ने इंटरनेशनल क्रिकेट से रिटायरमेंट की खबर अपने आधिकारिक इंस्टाग्राम पोस्ट के जरिए दी। जिसके बाद वे आईपीएल में नजर आए।

अदर पूनावाला

अदर पूनावाला वैक्सीन बनाने वाली कंपनी सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के सीईओ हैं। 1966 में उनके पिता, डॉ. साइरस पूनावाला द्वारा स्थापित, यह दुनिया की सबसे बड़ी वैक्सीन निर्माता है। कोरोना काल में वैक्सीन के शोध से लेकर विनिर्माण तक हर जगह अदर पूनावाला काफी एक्टिव हैं। कोरोना की वैक्सीन को भारतीयों को देने के लिए सीरम इंस्टीट्यूट ने ऑक्सफोर्ड की वैक्सीन कोविशिल्ड की 4-5 करोड़ खुराक तैयार कर ली हैं।

अक्षय कुमार

कोरोना काल में देश की मदद के लिए कई हाथ आगे बढ़े। इस दौरान पीएम केयर फंड के जरिए देशवासियों से मदद की अपील की गई। जिसमें सबसे पहले अभिनेता ने पीएम केयर फंड को 25 करोड़ रुपये देने का वादा किया। अक्षय कुमार के इतने बड़े रकम के योगदान ने फैंस का दिल जीत लिया। बता दें कि इससे पहले भी अक्षय कुमार सैनिकों के कल्याण और राहत कोष के लिए मदद कर चुके हैं।

मुकेश अंबानी

सबसे अमीर भारतीय की सूची में एक बार फिर रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (आरआईएल) के चेयरमैन मुकेश अंबानी का नाम सबसे ऊपर हैं। मुकेश अंबानी लगातार 13वें साल भारत के सबसे अमीर शख्स बने हुए हैं।

कमला हैरिस

भारतीय मूल की कमला हैरिस अमेरिकी उपराष्ट्रपति निर्वाचित होने वाली पहली महिला बनीं। कमला हैरिस ने कई मामलों में अमेरिका में इतिहास रच दिया। हैरिस पहली अश्वेत महिला हैं जो उपराष्ट्रपति बन रहीं हैं और यह पहली बार ही होगा कि भारतीय मूल से जुड़ी कोई महिला अमेरिका के उपराष्ट्रपति पद वाला पदभार संभाल रही है।

ऋषि सुनक

इस साल के शुरुआत में भारतीय मूल के ऋषि सुनक भी काफी चर्चा में रहे जब उन्हें यूके का चांसलर चुना गया है। ऋषि सुनक ब्रिटेन में ऐसे महत्वपूर्ण पद पर पहुंचने वाले भारतीय मूल के पहले सांसद हैं। वह ब्रिटेन के वित्त मंत्री भी है। 40 वर्षीय भारतीय मूल के वित्त मंत्री की शादी अक्षता मूर्ति से हुई है। अक्षता इंफोसिस के सह-संस्थापक नारायण मूर्ति की बेटी हैं।

रौशनी नादर

रौशनी नदार मल्‍होत्रा एचसीएल टेक्नोलॉजीज़ की चयरपर्सन बनीं। भारत की किसी लिस्‍टेड आईटी कंपनी की पहली महिला प्रमुख बनी हैं। फोर्ब्स 2020 में उन्‍हें विश्‍व की शीर्ष शक्त‍िशाली महिलाओं में शामिल किया गया। कोटक वेल्थ मैनेजेमेंट एंड हुरुन इंडिया 2020 सूची के अनुसार रौशनी भारत की सबसे अमीर महिला हैं, जिनके पास 54,850 करोड़ रुपए की संपत्ति है।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *