प्रदेश में बर्फीली हवाओं ने कड़ाके की सर्दी का असर को अब चरम पर दिखाई देने है। लगातार तीन दिन से चल रही सर्द हवाएं अब अपने तीखे तेवर दिखाने लगी है। आलम यह है कि मंगलवार को प्रदेश के 5 शहरों का तापमान माइनस में पहुंच गया है। प्रदेश के एकमात्र हिल स्टेशन की बात करें, तो माउंट आबू में सीजन की सबसे बड़ी गिरावट देखने को मिली है। यहां पारा -4.0 डिग्री पहुंच गया है । इसके अलावा फतेहपुर में -3.2, जोबनेर में -1.8 सीकर में -0. 5 और चुरू में -0.4 पारा पहुंच गया है।

आबू में सर्दी ने बढ़ाई आफत

आपको बता दें कि हिल स्टेशन माउंट आबू में पारा माइनस हो जाने के बाद लोगों की परेशानियां बढ़ गई है । लोग सर्दी से बचाव के लिए अलाव का सहारा ले रहे हैं ।वही पर्यटक भी वूलन क्लॉथ के साथ मौसम का लुफ्त उठा रहे हैं।

बाड़मेर में झाड़ियों में जमी बर्फ

सरहदी बाड़मेर में भी कड़ाके की ठंड ने लोगों की धूजणी छूटा दी है। बाड़मेर के खेजड़ी इलाके में झाड़ियों पर बर्फ जमने एक फोटो भी सामने आई है, जो वायरल हो रही है।

13 शहरों का पारा 5 डिग्री से नीचे

13-5-

आपको बता दें कि प्रदेश के लगभग सभी जिलों में सर्दी का प्रकोप जारी है। राजस्थान के 13 शहरों में पारा 5 डिग्री से नीचे है। भीलवाड़ा में 0. 9 पिलानी ने 0 . 9, राजसमंद में 1, चित्तौड़गढ़ में 1.7, डबोक में 2.4, गंगानगर में 3 .1, बीकानेर में 4. 3 जैसलमेर में 4.5 और जयपुर में 5 . 6 डिग्री टेंपरेचर दर्ज किया गया है।

​टंकियों में भी जमी बर्फ

प्रदेश में सर्दी का आलम यह है कि माउंब आबू सहित कई जिलों में कड़ाके की ठंड के कारण पानी में बर्फ जमने लगी है। कई जिलों में पानी ही बर्फ बन गया है। मौसम विभाग का कहना है कि दो जनवरी से पहले सर्दी से निजात मिलना मुश्किल है।

ठाकुर जी ने भी पहने ऊनी वस्त्र

प्रदेश में सर्दी का सितम ऐसा है कि इंसान ही नहीं अब भगवान के लिए भी सर्दी से बचाव का इंतजाम किया जा रहा है। भगवान को भी ऊनी वस्त्र पहनाए जा रहे हैं। साथ ही गर्म पकवानों का भी भोग लगाया जा रहा है।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *