बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम और वर्तमान में भाजपा के राज्यसभा सांसद सुशील मोदी ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की बातों का समर्थन करते हुए कहा कि- हां वो मुख्यमंत्री नहीं बनना चाहते थे लेकिन भाजपा और जदयू के नेताओं ने कहा कि हमलोगों ने उनके नाम और विजन पर बिहार चुनाव लड़ा। लोगों ने उनके नाम पर हमें वोट दिया। इसके बाद उन्होंने JDU, BJP और VIP नेताओं के कहने पर सीएम पद स्वीकारा।

आपको बता दें कि एक दिन पहले रविवार को जदयू की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में नीतीश ने ये कहते हुए राजनीति में सबको चौंका दिया था कि वर्ष 2020 के चुनाव के बाद उन्हें मुख्यमंत्री बनने की इच्छा नहीं थी। उन्होंने भाजपा नेतृत्व के समक्ष भी यह बात रखी थी कि वे मुख्यमंत्री बनना नहीं चाहते हैं। भाजपा की ओर से ही कोई मुख्यमंत्री बने। पर, भाजपा नेतृत्व इस पर राजी नहीं हुआ और मुझे पर मुख्यमंत्री बनने का दबाव डाला गया।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *