प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 29 दिसंबर को भाऊपुर से खुर्जा के बीच ईस्टर्न डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर के न्यू भावपुर-न्यू खुर्जा सेक्शन ट्रैक का उद्घाटन करेंगे. प्रधानमंत्री मोदी वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से 29 दिसंबर को सुबह 11 बजे ट्रैक का उद्घाटन करेंगे. इस मौके पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ व राज्यपाल आनंदीबेन पटेल भी मौजूद रहेंगे. यूपी में स्थित भाऊपुर से खुर्जा के बीच 351 किमी के ईडीएफसी ट्रैक को बनाने में 5,750 करोड़ रुपये की लागत आई है.

यहां होगा फायदा

कानपुर देहात के पुखरायन इलाके की एल्युमिनियम इंडस्ट्री, औरैया जिले के डेयरी सेक्टर, इटावा के टेक्सटाइल और ब्लॉक प्रिंटिंग सेक्टर, फिरोजाबाद जिले की ग्लासवेयर इंडस्ट्री, बुलंदशहर के खुर्जा के पोटरी प्रोडक्ट, हाथ जिले के हींग प्रोडक्शन और अलीगढ़ के ताले और हार्डवेयर इंडस्ट्री के लिए कई सारे अवसर खुलेंगे.इस सेक्शन की वजह से कानपुर-दिल्ली रूट का ट्रैफिक भी कम होगा. साथ ही यह सेक्शन भारतीय रेलवे को और तेजी से ट्रेनें चलाने में मदद करेगा.

क्या है खास

पूरे EDFC के लिए प्रयागराज का ऑपरेशन कंट्रोल सेंटर एक कमांड सेंटर की तरह काम करेगा. ये सेंटर दुनिया भर में इस तरह के सबसे बड़े स्ट्रक्चर में से एक है. इसमें आधुनिक इंटीरियर्स का इस्तेमाल किया गया है और इसका डिजाइन भी शानदार है. यह बिल्डिंग पर्यावरण फ्रेंडली है और सुगम्य भारत योजना के तहत बनाई गई है.

उल्लेखनीय है कि पूर्वी ईडीएफसी (1856 मार्ग किमी) लुधियाना (पंजाब) के पास साहनेवाल से शुरू होता है और पंजाब, हरियाणा, उत्तर प्रदेश, बिहार और झारखंड राज्यों से गुजरकर पश्चिम बंगाल के दानकुनी में समाप्त होता है.

इसका निर्माण ‘डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड’ (DFCCIL) द्वारा किया जा रहा है, जिसे ईस्टर्न डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर के निर्माण और संचालन के लिए विशेष रूप से स्थापित किया गया है.

डीएफसीसीआईएल वेस्टर्न डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर (1504 मार्ग किमी) का निर्माण भी कर रहा है जो उत्तर प्रदेश के दादरी को मुंबई में जवाहरलाल नेहरू पोर्ट से जोड़ता है. वह गलियारा उत्तर प्रदेश, हरियाणा, राजस्थान, गुजरात और महाराष्ट्र राज्यों से गुजरेगा.

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *