• कोलकाता प्रवास के दौरान जल शक्ति मंत्री ने किया डोर टू डोर जनसंपर्क अभियान

• जनसंपर्क अभियान में स्थानीय लोगों ने गिनाई ‘दीदी शासन’ की खामियां

• गजेंद्र सिंह शेखावत को स्थानीय लोगों का मिला भरपूर समर्थन

केंद्रीय जलशक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने कोलकाता प्रवास के दौरान सोमवार को पानीहाटी विधानसभा में डोर टू डोर जनसंपर्क किया। इस दौरान उन्होंने ममता सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि केंद्र की 80 जनयोजनाओं से पश्चिम बंगाल के 4 करोड़ से अधिक लोगों को ममता सरकार ने वंचित करने का काम किया है। स्थानीय और क्षेत्र के कई गणमान्य लोगों ने ‘दीदी शासन’ पर आरोप लगाते हुए कहा कि एक तरफ केंद्र की मोदी सरकार सभी योजनाओं को बिना किसी भेदभाव के लागू करने का काम कर रही है वहीं पश्चिम बंगाल में ममता दीदी ने इन योजनाओं से प्रदेश की जनता को वंचित कर दिया है। जनसंपर्क अभियान के दौरान डॉक्‍टरों और अधिवक्ता समूह ने केंद्रीय मंत्री से मुलाकात कर पश्चिम बंगाल में व्याप्त आराजकता के बारे में भी चर्चा की। जिसपर गजेंद्र सिंह शेखावत ने आश्‍वासन दिया कि पश्चिम बंगाल में बीजेपी की सरकार आने पर भ्रष्‍टाचार और अराजकता के खिलाफ अभियान चलाया जाएगा।

पानीहाटी विधानसभा में डोर टू डोर जनसंपर्क अभियान के दौरान गजेंद्र सिंह शेखावत ने हितग्राहियों से मिलकर केंद्र की योजनाओं के बारे में विस्तार से चर्चा की। स्थानीय लोगों से संवाद के दौरान केंद्रीय मंत्री ने बताया कि केंद्र की मोदी सरकार ने गरीब, दलित, आदिवासी और पिछड़ों के लिए 80 से ज्यादा योजनाएं शुरू की हैं लेकिन ममता दीदी की सरकार ने इन योजनाओं को पश्चिम बंगाल में लागू नहीं किया।

केंद्रीय जलशक्ति मंत्री ने स्थानीय लोगों से चर्चा के दौरान ममता बनर्जी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि किसान सम्मान निधि योजना के तहत केंद्र सरकार ने 7वीं किश्त के पैसे को भेजना शुरू कर दिया है। इस लाभ से बंगाल के 76 लाख किसान वंचित हो गए हैं। करीब 4200 करोड़ रूपये से पश्चिम बंगाल के किसानों को वंचित करने का काम ममता बनर्जी ने किया है। उन्होंने कहा कि बंगाल के लोग पांच लाख रुपये तक के मुफ्त इलाज की आयुष्मान योजना के लाभ से भी वंचित हैं। ठेले वाले, रेहड़ी वाले, कूड़ा एकत्र करने वाले, रिक्शा चालक जैसे गरीब लोगों की संख्या 4 करोड़ से अधिक है। इन 4 करोड़ लोगों को वंचित रखने का काम ममता दीदी ने किया है। यह भी तब है जब प्रदेश में स्वास्थ्य मंत्रालय की जिम्मेदारी भी ममता बनर्जी के ही पास है। जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने कहा कि सबको साथ लेकर चलने की ताकत सिर्फ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी है। भाजपा समाज को जोड़ती है जबकि ममता सरकार समाज को तोड़कर वोटबैंक की राजनीति करती है।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *