अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) ने आखिरकार कोरोना वायरस राहत पैकेज (Corona Relief Package) पर हस्ताक्षर कर दिए हैं. व्हाइट हाउस ने रविवार रात घोषणा करते हुए बताया कि राष्ट्रपति ने राहत पैकेज पर हस्ताक्षर कर दिए हैं. अब कोरोना प्रभावितों को सरकारी सहायता मिलने का रास्ता साफ हो गया है. इससे पहले, डोनाल्ड ट्रंप ने पैकेज को मंजूरी देने से इनकार कर दिया था. उनके इस रुख की अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्‍ट्रपति जो बाइडन ने निंदा की थी.

व्हाइट हाउस ने बताया कि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) ने 900 बिलियन अमेरिकी डॉलर के कोरोना वायरस राहत पैकेज (Corona Relief Package) पर हस्ताक्षर कर दिए हैं. बता दें कि महीनों तक चली बातचीत के बाद सीनेट ने पिछले सोमवार को इस पैकेज को मंजूरी दी थी. इस पैकेज में उन अमेरिकियों को 600 डॉलर के चेक देने का प्रावधान है, जो प्रति वर्ष $75,000 से कम कमाते हैं. डोनाल्ड ट्रंप ने इस प्रावधान पर आपत्ति जताते हुए कहा था कि सहायता राशि को बढ़ाया जाना चाहिए.

लोगों ने जताई खुशी
डोनाल्ड ट्रंप ने कहा था कि अतिरिक्त खर्च में कटौती करके राहत पैकेज की राशि को बढ़ाया जाना चाहिए. उन्होंने कहा था कि मैं कांग्रेस को ये स्पष्ट संदेश देना चाहता हूं कि खर्चों में कटौती करके चेक की राशि को $2,000 किया जाना चाहिए. हालांकि, अब उन्होंने इस पैकेज पर हस्ताक्षर कर दिए हैं. राष्ट्रपति के इस रुख पर लोगों ने खुशी जाहिर की है.

Biden ने दी थी चेतावनी

इस राशि का इस्तेमाल कोरोना वायरस महामारी के दौरान बुरी तरह प्रभावित हुए कारोबारियों और जरूरतमंदों की मदद तथा टीका मुहैया कराने के लिए किया जाएगा। इससे आम अमेरिकियों और व्यवसायों की तत्काल सहायता मिलेगी. पैकेज के तहत सबसे ज्यादा प्रभावित होने वाले कारोबारों, स्कूलों और स्वास्थ्य सेवाओं की भी मदद की जाएगी. इससे पहले, निर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडेन (Joe Biden) ने पैकेज पर हस्ताक्षर करने के लिए डोनाल्ड ट्रंप पर दबाव डाला था. उन्होंने चेतावनी दी थी कि अगर इस पैकेज पर हस्ताक्षर नहीं हुए तो इसके गंभीर नतीजे होंगे.

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *