ये साल लगभग खत्म हो चुका है। नए सााल के जश्न की तैयारियां चल रही हैं और ठंड भी अपना कह जमकर बरसा रही है। इसी बीच अगर नए जश्न में आप शराब पीने का प्लान बना रहे हैं तो थोड़ा रूक कर सोच लें, शायद ये अच्छा विचार नहीं है। भारत के मौसम विभाग उत्तर भारत में तेज शीत लहर चलने के संकेत दिए हैं। साथ ही ये भी कहा है कि घर या साल के अंत में पार्टियों में शराब पीना एक अच्छा विचार नहीं है।

आईएमडी की एक एडवाइजरी में कहा गया है, “शराब न पीएं, ये आपके शरीर के तापमान को कम कर सकती है, घर के अंदर रहिए. विटामिन सी का भरपूर सेवन करिए, फल खाइए. गंभीर ठंड की स्थिति का सामना करने के लिए अपनी त्वचा को मॉइस्चराइज करें।”

अपने नई प्रभाव-आधारित एडवाइजरी में, आईएमडी ने कहा कि पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, उत्तर प्रदेश और उत्तरी राजस्थान में 29 दिसंबर से “गंभीर” शीत लहर चलने वाली है। आईएमडी के क्षेत्रीय पूर्वानुमान केंद्र के प्रमुख कुलदीप श्रीवास्तव ने कहा कि हिमालय की ऊपरी पहुंच को प्रभावित करने वाले एक ताजा पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव से रविवार और सोमवार को पारा थोड़ा बढ़ जाएगा, लेकिन राहत ज्यादा लंबे समय के लिए नहीं होगी।

पश्चिमी विक्षोभ के हट जाने के बाद और उत्तर-पश्चिम या उत्तर-पश्चिम में निचले स्तर की हवाओं में ठंडी और शुष्कता के परिणामस्वरूप मजबूती के प्रभाव के कारण 29 दिसंबर के बाद पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़ में फिर से “गंभीर शीत लहर” की स्थिति “ठंडी” हो सकती है।

पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़ और दिल्ली में 28 और 29 दिसंबर को और उत्तरी राजस्थान में 29 और 30 दिसंबर को ‘कोल्ड डे’ की स्थिति होने की संभावना है। 28 दिसंबर, 29 दिसंबर को पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली में घना कोहरा छा सकता है। IMD के अनुसार, एक ‘कोल्ड डे’ या ‘गंभीर कोल्ड डे’ तब माना जाता है जब न्यूनतम तापमान 10 डिग्री से कम हो और अधिकतम तापमान सामान्य से 4.5 डिग्री सेल्सियस या 6.4 डिग्री सेल्सियस से कम हो।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *