दिल्ली में कोविड-19 से बचाव के लिए वैक्सीनेशन की तैयारियां जोर-शोर से चल रही हैं। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने गुरुवार को बताया कि दिल्ली में पहले चरण में 51 लाख लोगों को कोविड वैक्सीन के लिए चिन्हित किया गया है। उनके लिए कुल 1.02 लाख करोड़ डोज की जरूरत पड़ेगी। प्रत्येक व्यक्ति को दो डोज दी जाएंगी।

केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में पहले चरण में 3 लाख स्वास्थ्यकर्मी, 6 लाख से अधिक फ्रंटलाइन वर्कर्स जिसमें पुलिस, सिविल डिफेंस, एमसीडी कर्मी व अन्य। इनके अलावा 50 साल से अधिक उम्र वाले और 50 साल से कम उम्र के वो लोग जिन्हें कोई गंभीर बीमारी है, ऐसे करीब 42 लाख लोग हैं जिन्हें वैक्सीनेशन के लिए चिन्हित किया गया है। उन्होंने कहा कि बीमार लोगों को चिन्हित करने का काम लगभग अंतिम चरण में है।

केजरीवाल ने बताया कि अभी हमारे पास 74 लाख डोज को रखने की व्यवस्था है। बाकी डोज के लिए जल्द ही नए कोल्ड स्टोरेज बनाए जाएंगे। कोविड-19 केंद्र चिन्हित करने का काम भी अंतिम चरण में है। हर केंद्र पर पांच लोगों की टीम चाहिए यह काम भी पूरा हो चुका है।

केजरीवाल ने बताया कि डॉक्टर्स के प्रशिक्षण का काम पूरा हो चुका है। अब हमें सिर्फ कोविड वैक्सीन के भारत में अप्रूव्ड होने का इंतजार है, जिसका हम सभी बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं।

केजरीवाल ने कहा कि अगर किसी को कोविड-19 वैक्सीन के बाद किसी तरह का साइड इफेक्ट होता है तो उसके इलाज की भी समुचित व्यवस्था की गई है। उन्होंने कहा कि हम पूरी तरह से तैयार हैं। सभी को कोविड वैक्सीन के लिए पंजीकृत किया जाएगा। उसके बाद ही उन्हें कोविड वैक्सीन दिया जाएगा। किसे कब और कहां वैक्सीन दी जाएगी इसकी सूचना एसएमएस के जरिये दिया जाएगा।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *