फाइज़र और मॉडर्ना कंपनियों की दो वैक्सीन को इमर्जेंसी अप्रूवल के बाद अमेरिका में दस लाख लोगों को कोरोना की वैक्सीन लगाई जा रही है। अमेरिकी सरकार ने मार्च तक प्रत्येक अमेरिकी को वैक्सीन देने का लक्ष्‍य रखा है।

सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन के निदेशक रॉबर्ट रेडफील्ड ने कहा है कि अमेरिका ने बहुत जल्दी यह कामयाबी हासिल कर ली है। 10 लाख लोगों ने कोरोना की वैक्सीन की पहली डोज लगवाई है। यह प्रक्रिया प्रशासन की ओर से 10 दिन पहले शुरू की गई थी। रेडफील्ड ने सभी अमेरिकियों से आग्रह किया है कि वह सभी स्वास्थ्य दिशा-निर्देशों का पालन करें। खासकर वैक्सीन उपलब्ध नहीं होने तक अनिवार्य रूप से मास्क पहनकर रखना।

अमेरिकी अधिकारियों को उम्मीद है कि इस हफ्ते के अंत तक मंजूर किए गए दो वैक्सीन उत्पादकों बायोनटेक-फाइजर और मॉडर्ना से ऑर्डर पर वैक्सीन की एक करोड़ खुराक विकसित की जाएगी।

वहीं हेल्थ एंड ह्यूमन सर्विसेंस सेक्रेटरी एलेक्स अज़ार ने मीडिया से बातचीत में कहा है कि मार्च 2021 तक अमेरिका में हर एक व्यक्त‍ि को वैक्सीन दे दी जाएगी। गुरुवार को गोल्‍डमैन सैश हेल्थकेयर के एक कार्यक्रम में उन्‍होंने कहा कि अमेरिका के पास वैक्सीन के लिए पर्याप्त संसाधन उपलब्‍ध हैं। उन्‍होंने बताया कि वर्तमान में 23 मैन्‍यूफैक्चरिंग यूनिट्स में छह वैक्सीन वैक्सीन का निर्माण जारी है। उनमें से मॉडर्ना, फाइज़र, एस्‍ट्राजेनेका और जॉनसन एंड जॉनसन की वैक्सीन अंतिम चरण पर हैं।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *