कोरोनावायरस ने ब्रिटेन में नए प्रकार का खतरनाक रूप ले लिया है. ब्रिटेन में कोरोनावायरस के नए प्रकार (Coronavirus Strain) की पहचान होने के बीच इस पर चर्चा के लिए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने सोमवार को संयुक्त निगरानी समूह (JMG) की आपात बैठक बुलाई है. माना जा रहा है कि कोरोनावायरस का नया प्रकार ब्रिटेन में संक्रमण को तेजी से फैलाने के लिए जिम्मेदार है.

वायरस का नया प्रकार ‘नियत्रंण से बाहर’, ब्रिटेन में सख्त लॉकडाउन लागू

ब्रिटेन की सरकार द्वारा वायरस के नए प्रकार के ‘नियत्रंण से बाहर’ होने की चेतावनी जारी करने के बाद यूरोपीय यूनियन के कई देशों ने ब्रिटेन से आने वाली उडानों पर रोक लगा दी है.

वहीं, ब्रिटेन ने भी रविवार से सख्त लॉकडाउन लागू कर दिया है.

पीटीआई ने सूत्रों के हवाले से बताया कि ‘ ब्रिटेन में कोरोना वायरस के नए प्रकार के चलते इस पर चर्चा के लिए स्वास्थ्य सेवा महानिदेशक (DGHS) की अध्यक्षता में सोमवार को संयुक्त निगरानी समूह की बैठक होगी.

भारत में विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के प्रतिनिधि डॉ रॉडरिको एच ऑफ्रिन भी बैठक में शामिल हो सकते हैं जोकि संयुक्त निगरानी समूह (JMG) के सदस्य हैं.’

कई देशों ने कोरोना वायरस के नए प्रकार के डर से ब्रिटेन की उड़ानों पर लगाई रोक

दक्षिण इंग्लैंड में कोरोना वायरस का नया प्रकार सामने आने के बाद यूरोपीय संघ के कई देशों ने ब्रिटेन से आने वाली उड़ानों पर रोक लगा दी है ताकि इसका प्रकोप उनके देशों में नहीं पहुंचे. इस बीच, जर्मनी भी ब्रिटेन से आने वाली उड़ानों को सीमित करने पर विचार कर रहा है जबकि नीदरलैंड ने कम से कम इस साल के अंत तक ब्रिटेन से आने वाली उड़ानों पर रोक लगा दी है.

वहीं, बेल्जियम ने रविवार मध्यरात्रि से लेकर अगले 24 घंटों के लिए ब्रिटेन की उड़ानों पर रोक लगाने की घोषणा की है. साथ ही ब्रिटेन की रेल सेवाओं की आवाजाही पर भी रोक लगा दी है.

ब्रिटेन से आने वाली उड़ानों पर रोक लगाएंगे ऑस्ट्रिया और इटली

उधर, ऑस्ट्रिया और इटली ने कहा है कि वह ब्रिटेन से आने वाली उड़ानों पर रोक लगाएंगे. हालांकि प्रतिबंध के समय से संबंधित कोई भी जानकारी साझा करने से इंकार किया. इटली के विदेश मंत्री लुइगी डी मायो ने ट्विटर पर कहा कि सरकार कोरोना वायरस के नए प्रकार से इटली के निवासियों को बचाने के लिए आवश्यक कदम उठा रही है.

रविवार को ब्रिटेन से करीब दो दर्जन उड़ानें इटली के लिए रवाना होनी हैं. इस बीच, जर्मनी के अधिकारी ब्रिटेन से आने वाली उड़ानों के संबंध में गंभीर विकल्प को लेकर विचार कर रहे हैं लेकिन अब तक कोई कदम नहीं उठाया गया है.

वहीं, चेक गणराज्य ने ब्रिटेन से आने वाले लोगों के लिए आइसोलेशन के नियम को लागू कर दिया है. बेल्जियम के प्रधानमंत्री अलेक्जेंडर डी क्रू ने रविवार को कहा कि वह बतौर सावधानी मध्यरात्रि से अगले 24 घंटों के लिए ब्रिटेन से आने वाली उड़ानों पर रोक लगा रहे हैं.

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *