भारत-नेपाल की सरहद के भारतीय इलाके के बलई गांव में 1.20 करोड़ की चरस बरामद की गई है। सशस्त्र सीमा बल की 59 वी बटालियन व नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो की संयुक्त मुहिम में नेपाल के हुम्ला जिले के बाशिंदा नेपाली मादक पदार्थ तस्कर को धर दबोचा गया है। 

सशस्त्र सीमा बल 59वी बटालियन के कार्यवाहक कमांडेंट शैलेश कुमार ने बताया कि रविवार की भोर से पूर्व 59वीं बटालियन सशस्त्र सीमा बल की सीमा चौकी बलई गांव व नारकोटिक कंट्रोल ब्यूरो लखनऊ ने ठोस सेचना के आधार पर रविवार आधी रात से संयुक्त नाका लगाया गया था । जानकारी मिली थी कि एक तस्कर नेपाल से भारत आने वाला है। जिसके पास नशीले पदार्थ होने की संभावना है। मादक पदार्थ की डिलीवरी वह भारतीय इलाके में किसी को देने वाला है।

बीओपी बलई गांव के निरीक्षक अभिषेक त्रिपाठी, आशीष उपाध्याय, नवीन सिंह धामी व नारकोटिक कंट्रोल ब्यूरो लखनऊ के सुरिंदर कुमार व उनकी टीम ने संयुक्त नाका लगाया। भोर से पूर्व एक व्यक्ति नेपाल की तरफ से आते दिखाई दिया। जब उसको रोका गया और पूछताछ की गई तो उसने अपने आप को नेपाल के हुम्ला जिले निवासी हरजन बुधा बत। जब उसकी तलाशी ली गई तो उसके पास से 4 किग्रा चरस बरामद की गई। बरामद की गई चरस की कीमत अन्तर्राष्ट्रीय बाजार में एक करोड़ बीस लाख रुपए आंकी गई है। तस्कर व चरस को एनसीबी के हवाले कर दिया गया है।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *