तेलंगाना में अभिनेता सोनू सूद के सम्मान में एक मंदिर बनाया गया था। मंदिर सिद्दीपेट के डब्बा टांडा गांव में बनाया गया था। इस बीच स्थानीय लोगों को सोनू सूद की ‘आरती’ करते देखा गया। उन्होंने मंदिर में ‘जय हो सोनू सूद’ के नारे भी लगाए। मंदिर का निर्माण लॉकडाउन के दौरान सोनू सूद के लोगों की मदद करने के बाद किया गया था।

कोविड-19 की वजह से लगे लॉकडाउन के दौरान, सोनू सूद ने कई प्रवासी श्रमिकों की मदद की थी। सोनू सूद ने विभिन्न राज्यों में प्रवासियों को उनके गृहनगर पहुंचने में काफी मदद की। उन्हें व्यक्तिगत तौर पर प्रवासी कामगारों को बसों में ले जाते देखा गया। सोनू सूद के इस काम के लिए कई दिनों तक उनकी प्रशंसा की गई।

आपको बता दें कि लॉकडाउन के दौरान जब प्रवासी मजदूर पैदल ही अपने घर की ओर जाने लगे थे। तब सोनू सून ने ट्विवटर के जरिए कई लोगों की मदद की थी। कहीं किसी को बस से भेजना, किसी को ऑनलाइन पढ़ाई के लिए मोबाईल उपलब्ध करना। इसके अलावा एक बार सोनू सूद ने बैल से खेत जोत रहे लोगों के लिए ट्रैक्टर भी उपलब्ध कराया। ऐसे ही मानवीय काम सोनू सूद ने लॉकडाउन के दौरान लोगों के लिए किए थे। यही कारण है कि आज उनके नाम मंदिर बनने और आरती होने की खबरें आ रही है। 

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed