कार्गो सेवा को मंजूरी के बाद विमान कंपनियों से खुशी जाहिर करते हुए एयरपोर्ट अथॉरिटी से जल्द से जल्द इस सेवा को शुरू करने की मांग की है। वही एयरपोर्ट अथॉरिटी ने इसको लेकर अपनी तैयारियां शुरू कर दी है। एयरपोर्ट अथॉरिटी का कहना है कि कोशिश है कि जल्द ही इस सेवा को शुरू कर दिया जाएगा। वर्तमान समय में यात्रियों के सामने सबसे बड़ा संकट यह है कि वह अपने साथ सिर्फ सात किलो वजन तक का बैग ही ले जा सकते हैं। इससे अधिक की अनुमति नहीं होती है। लेकिन इस सेवा के शुरू हो जाने के बाद यात्री भारी सामान भी बुक करा सकते हैं। हालांकि कार्गो सेवा के लिए विमान कंपनियों ने अभी किराया निर्धारित नहीं है। दूरी और विमान के हिसाब से जल्द ही ढुलाई का किराया भी निर्धारित हो जाएगा।

लगातार मिली कई उपलब्धि 

लॉकडाउन के दौरान जहां एयरपोर्ट पर सभी सेवाएं पूरी तरह से ठप थीं, वहीं जब सेवाएं शुरू हुईं तो एक के बाद एक एयरपोर्ट को कई उपलब्धियां मिलीं। इसमे सबसे प्रमुख है एयरपोर्ट का अपग्रेड होना। एयरपोर्ट के अपग्रेड होने के साथ ही नए टर्मिनल की मंजूरी मिली तो यहां सब-वे बनाने का भी प्रस्ताव है। एक साथ चार विमानों को खड़ा करने के लिए पार्किंग के लिए एयरफोर्स ने मंजूरी दे दी तो वहीं एयरपोर्ट का दायरा डेढ़ एकड़ तक बढ़ाने के लिए भी सहमति मिल गई है।

इन दिनों 9 उड़ानें, 2500 यात्री रोज

गोरखपुर एयरपोर्ट से इन दिनों छह शहरों के लिए उड़ानें हो रही हैं। इसमें दिल्ली की तीन, मुम्बई की दो, कोलकाता, प्रयागराज, हैदराबाद और बंगलुरु की एक-एक उड़ान शामिल है। ये सभी विमान पूरी तरह से पैक जा रहे हैं और पूरी तरह से पैक होकर आ भी रहे हैं। इन दिनों रोजाना औसत यात्रियों की संख्या करीब 2500 है।

मंत्रालय की ओर से कार्गो सेवा शुरू करने की मंजूरी मिल गई है। जल्द ही यह सेवा शुरू हो जाएगी। इसके शुरू हो जाने से यात्रियों को काफी फायदा होगा।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *