“बिहार के सब भाजपा कार्यकर्ता एवं साथी लोग अभिनंदन के पात्र बानी जा. लोग कहत रहे कि ओहिजा ग़रीबी बा, कोरोना ज़्यादा फैली, लेकिन रउआ लोग सब केहू के ग़लत साबित कर देहनी.”

भोजपुरी में यह बात प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चार जुलाई को बिहार बीजेपी के कार्यकर्ताओं से कही. वे कह रहे थे कि बिहार बीजेपी के लोगों ने कोरोना के दौरान इतना अच्छा काम किया कि यहां संक्रमण का प्रसार अधिक नहीं हुआ.

लेकिन बिहार सरकार के स्वास्थ्य विभाग के आंकड़े कहते हैं कि प्रधानमंत्री के संबोधन के दो दिनों (चार और पांच जुलाई) के अंदर बिहार में कोरोना संक्रमण के रिकॉर्ड 950 पॉज़िटिव मामले बढ़े हैं.

दरअसल, संक्रमण के रिकॉर्ड मामले मिलने की बात केवल दो दिनों की नहीं है. पिछले कुछ हफ़्तों से लगातार यही हाल है. हर दिन बीते दिन से कोरोना संक्रमण के अधिक मामले मिल रहे हैं.

कोरोना के बढ़ते मामले

अनलॉक होते बिहार में पॉज़िटिव मामलों की संख्या 3807 (31 मई को ) से बढ़कर 11,860 पहुंच गई है. इस तरह इस दौरान संक्रमण के मामले लगभग तीन गुणा बढ़े हैं.

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *